1

साइकिल रिक्शा से भारत भृमण करने वाले रिक्शा चालक का कछौना चौराहे पर किया गया स्वागत

दैनिक देश मोर्चा संवाददाता पीडी गुप्ता

कछौना (हरदोई) : विश्व शांति व पर्यावरण संदेश को लेकर साइकिल रिक्शा से कोलकाता से लद्दाख पहुंचा कोलकाता निवासी चेतन दास, मामूली रिक्शा चालक ने कुछ अलग करने की ठानी, वह भारत का भ्रमण करना चाहते थे। वह काफी गरीब थे। 1994 में 13 माह में पूरा भारत का भ्रमण किया था। दूसरी यात्रा में परिवार के साथ रिक्शा से लद्दाख की यात्रा की। 3400 किलोमीटर की यात्रा की। वह पर काफी संघर्ष के बाद लद्दाख पहुंचे। रिक्शा से पहुंचकर वर्ल्ड में पहले इंसान बने। रिक्शा से यात्रा करके उन्होंने पर्यावरण के लिए संदेश दिया। इनके कार्यों को लिंबा बुक में दर्ज है। इनके ऊपर एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म भी बनी। इनके जब्बे को कभी पैसा रोड़ा नहीं बना। इनकी प्रबल इच्छाशक्ति ने कई बार यात्रा की। गरुवार को कछौना के मुख्य चौराहे पर व्यापार मंडल अध्यक्ष गौरव गुप्ता, संजय तिवारी, मुजीब, भास्कर सिंह, परमेश्वर दयाल ने स्वागत किया। उनके अनुभवों को जाना। वह युवाओं के लिए प्रेरणा हैं। हौसले के आगे बड़ी सी बड़ी मंजिल पाई जा सकती है।